आरामदायक सफ़र के लिए गूगल मैप्स का प्रयोग कैसे करें?

कैसे हो यारा ?

कई बार हमें नयी-पुरानी जगहों की तलाश में बहुत परेशानी उठानी पड़ती है। लोगों से बार-बार पूछना पड़ता है।

इसीलिए जब हम कहीं जाने की योजना बनाते हैं तो अनायास ही उस जगह की स्थिति, नक्शा, दूरी आदि के बारे में जानने की कोशिश शुरू कर देते हैं। 

ऐसी दिक्कतों को दूर करने के लिए गूगल मैप्स का प्रयोग करना अब आम हो गया है। लेकिन गूगल मैप्स का प्रयोग हम और भी कई चीजों के लिए कर सकते हैं।

आइए आपको बताते हैं कि एक यात्री के रूप में आप इसका ज्यादा से ज्यादा फायदा कैसे उठा सकते हैं?

1. घूमने वाली जगह की स्थिति के बारे में जानने के लिए । To Know About the Location of Destinations

गूगल मैप्स का ये बहुत ही आसान और प्रचलित उपयोग है। जब किसी जगह के बारे में जानने के लिए उसे स्पेसिफिक डिटेल्स के साथ ढूंढते हैं तब सर्च रिजल्ट ज्यादा एक्यूरेट आ पाता है।

क्योंकि कई बार एक ही नाम के कई जगह होने के कारण गलत जगह सेलेक्ट करने पर गलत परिणाम आ जाता है।

2. सही मार्ग तय करने के लिए । To Decide the Best Possible Way 

जब आप गूगल मैप्स की Direction नामक फीचर का प्रयोग करते हैं तो घूमने वाली जगह जाने के लिए हर संभव रास्तों का पता चल पाता है। और इस तरह आप सबसे सुविधाजनक मार्ग सुनिश्चित कर सकते हैं।

इसमें कार, बाइक, बस आदि के अनुसार हर संभव रास्ते की दूरी, रियल टाइम ट्रैफिक जाम और अनुमानित समय का भी पता चल जाता है। ट्रैफिक जाम से बचने के लिए आप दूसरे रास्ते का भी चुनाव कर सकते हैं।

अब गूगल मैप्स की नई अपडेट के अनुसार आपको सबसे पहले उन रास्तों का सुझाव मिलेगा जिस पर ट्रैफिक जाम की कम से कम संभावना हो।

3. बस, ट्रेन, मेट्रो आदि से संबंधित एलर्ट्स के लिए । Alerts Related with Bus, Train, Metro etc. 

आने जाने के लिए ट्रेन, मेट्रो, बस आदि का बार-बार प्रयोग करने पर google आर्टिफीसियल इंटेलिजेंस की सहायता से हमारी ज़रुरतों या क्रिया कलापों के आधार पर नियमित रुप से नोटिफिकेशंस देती रहती है।

इसी तरह जब हम ट्रेन, फ्लाइट आदि बुक करके कहीं जाने की तैयारी कर रहे होते हैं तब भी उसके बारे में समय-समय पर जानकारियां मिलती रहती हैं।

ऐसा इसलिए होता है कि अधिकतर लोग जीमेल और android फोन का प्रयोग करते हैं जिससे सारी डाटा google में सिंक होती रहती है। 

जिसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के द्वारा प्रोसेस करके हमारी जरूरतों को पिछले क्रिया कलापों के आधार पर निर्धारित कर ली जाती है।

ये निश्चित रुप से अधिकतर यात्रियों के लिए समय से निर्णय लेने या उसमें फेरबदल करने में मददगार होता है। 

अगर हमें समय-समय पर हमारी जरूरतों के अनुसार अलर्ट्स या रिमाइंडर मिल रहे हैैं तो यात्रा करना बहुत ही सुविधाजनक हो जाता है।

4. अपनी सही स्थिति के बारे में जानने के लिए । To know about our Current Location 

कई बार हम यात्रा करते हुए आगे निकल जाते हैं और ये पता नहीं होता कि हम कहां हैं तब google maps से अपनी सही स्थिति का पता लगा सकते हैं।

जो GPS ऑन की परमिशन मिलने के बाद 500 मीटर की परिधि के अंदर तक कि एक्यूरेसी के साथ प्राप्त हो जाती है।

इतना ही नहीं हम इसके द्वारा रियल टाइम में देख सकते हैं कि बस या ट्रेन किस रास्ते से, किस ओर जा रही है और आगे कौन सी जगह, रेलवे या बस स्टेशन आने वाली है। 

इस कारण हम बहुत सारे निर्णय समय पर ले पाते हैं।

5. मोबाइल नेटवर्क ना होने की स्थिति में दिशा व दूरी जानने के लिए । To Know about Direction and Distance if Mobile Networks Not Available

वैसे तो सारे मोबाइल नेटवर्क ऑपरेटरों के नेटवर्क हर जगह मौजूद है फिर भी पहाड़ों, टापूओं या कम घनी आबादी वाले जगहों पर कई बार नेटवर्क नहीं मिलती या सिग्नल बहुत ही कमजोर होता है।

ऐसी स्थिति में नेटवर्क की अनुपलब्धता के कारण गूगल मैप्स या कोई अन्य ऐप काम नहीं कर पाता जिससे सही रास्ते पर चलते रहना या उसका पता लगाना मुश्किल हो जाता है।

ऐसी स्थिति में Google Maps के  सबसे कम उपयोग होने वाले एक फीचर का  उपयोग करके बिना किसी कठिनाई के हम अपनी यात्रा जारी रख सकते हैं। क्योंकि इसमें मैप या डायरेक्शन सेव करने का भी ऑप्शन मिलता है जिसे ऑफलाइन में भी यूज किया जा सकता है।

इस तरह नेटवर्क में रहते हुए हम अपने सर्च किये हुए नक्शे, दिशा या मार्ग को सेव करके ऑफ लाइन मैप की सहायता से अपने गंतव्य स्थान तक सुरक्षित पहुंच सकते हैं। है ना ये ज़बरदस्त फीचर?

6. गूगल मैप में टैग किए हुए जगहों, दुकानों और सर्विस प्रदान करने वाले लोगों को ढूंढने के लिए ।  For Searching Tagged Places, Shops and Services 

अमूमन किसी नई जगह जाने के लिए हम अपने जान पहचान के लोगों से उस जगह के बारे में पूछकर या इंटरनेट से जानकारी जुटाकर यात्रा करते हैं। 

इसके बावजूद घूमने वाले जगहों में यात्रियों की जरूरतों से संबंधित कुछ जानकारियां बिल्कुल भी नहीं मिलतीं।

प्रसिद्ध जगहों पर यात्रियों की विशेष जरूरतें आसानी से पूरी हो जाती हैं। लेकिन कम पॉपुलर जगहों पर व्यावसायिक गतिविधियां कम होने के कारण जरूरी आवश्यकताओं, सामानों या सेवाओं के लिए स्थानीय लोगों से पूछ कर ही मालूम करना पड़ता है।

लेकिन आजकल अवेयरनेस बढ़ने के कारण ऐसी जगहों पर स्थानीय लोग अपनी सेवाएं या व्यवसाय की जानकारी गूगल मैप्स में टैग कर देते हैं।

जो न केवल उनके व्यवसाय और सेवाओं के प्रचार प्रसार के लिए बल्कि यात्रियों की आवश्यकताओं की पूर्ति के लिए भी कई बार बहुत ही मददगार साबित होती है।

7. अपनी ट्रैवल टाइमलाइन चेक करने के लिए । To Check Our Travel Timeline 

गूगल मैप्स में अपनी timeline on करने पर हमें अपनी ट्रैवल हिस्ट्री जीमेल अकाउंट में ईमेल के माध्यम से प्राप्त होती रहती है। इसे आप हर महीने, 3 महीने या 1 साल पर प्राप्त करने के लिए सेट कर सकते हैं। 

आप किन-किन शहरों में गए, कुल कितनी दूरी तय की जैसी जानकारियां नक्शे के साथ प्राप्त कर पाते हैं।

ये जानकारियां उस समय ज्यादा काम आती हैं जब आप किसी कारणवश ये जानना चाहते हैं कि एक निश्चित समय या दिन आप कहां-कहां और किस लिए गए थे। 

कई बार अपनी पुरानी यादें ताजा करने के लिए भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

8. ऑटो डॉयरेक्शन का प्रयोग करने के लिए । For Using Auto-direction

जब हम गूगल मैप्स मैं अपने रास्ते को Auto Direction पर चूज़ करते हैं तो हमें समय-समय पर  voice mode में निर्देश मिलता रहता है कि आगे किस ओर, कितनी दूरी के बाद और किस दिशा में मुड़ना है। 

इस वजह से हमें रास्ते में ज्यादा भटकना नहीं पड़ता या रुक-रुक कर लोगों से पूछना नहीं पड़ता।

अगर हम कहें की गूगल मैप्स आम लोगों के लिए यात्रा से संबंधित हर तरह की जानकारी जैसे किसी जगह पर जाने के लिए दिशा, दूरी, ट्रैफिक जाम, सही रास्ता चुनने, उसका नक्शा जानने-समझने-बूझने आदि के लिए किसी भी ऐप से ज्यादा उपयोगी है तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी।

इसमें कोई शक नहीं कि बस, मेट्रो और ट्रेन से संबंधित अलर्ट या नोटिफिकेशन के अलावा नक्शे को सेव करके ऑफलाइन में प्रयोग करने, ऑटो डायरेक्शन और स्थानीय आवश्यकताओं की पूर्ति हेतु टैग की हुई सेवा या सुविधा के बारे में जानकारी प्राप्त करने जैसे फीचर बहुत ही कमाल के हैं।

निश्चित रूप से आप भी गूगल मैप्स के अधिकतर फीचर जरूर इस्तेमाल करते होंगे। Google Maps की कौन सी फीचर आप सबसे ज्यादा प्रयोग करते हैं। हमें कमेंट करके जरूर बताएं। और ये भी कि, किस फीचर के बारे में आपको पहली बार पता चला। कोई फीचर इसमें छूट गई है, तो भी।

तो यारा !

अपने सफर को बनाएं… मस्ती भरा ! 

मिलते हैं दोबारा !

Similar Posts